Thursday, November 23, 2017

फिल्म राज्जा रानी 5 दिसंबर के रिलीज़ होएत, टीज़र देखी

पिछला किछु समय सं मैथिली फिल्म आ म्यूजिक वीडियो बनबा मे गति देखल गेल अछि. एहि कड़ी मे एकटा अओर मैथिली फिल्म आबि रहल अछि. मूलतः नेपाली भाषा मे बनल 'राज्जा रानी' मैथिली भाषा मे सेहो रिलीज़ हेबा लेल तैयार अछि.

फिल्म निर्माण टीम क' मानी त' फ़िल्म पश्चिमी नेपाली तराई क्षेत्रक आदिवासी समुदायक खिस्सा कहत. फ़िल्मक मुख्य रोल मे अभिनेता नाजिर हुसैन आ अभिनेत्री केकी अधिकारी छथि. मैथिली कला संस्कृतिक संगे मधेस के विषय वस्तु बना फ़िल्मक निर्माण भेल अछि. फिल्म राज्जा रानी नेपाल संगे भारत मे सेहो रिलीज़ होएत.

फिल्म पूरा नेपाल मे 5 दिसंबर कें रिलीज़ होएत. भारत क्षेत्र मे उम्मीद करी जे फिल्म के बहुते रास सिनेमाघर मे जगह भेटय.

फिल्मक टीज़र देखी

Monday, October 16, 2017

नवादा गाम मे एक दिन पहिले किएक मनै छैक दीयाबाती

दरभंगा : पूरा मिथिला लगाएत भारत मे जतय आगामी 19 अक्टूबर माने के दीयाबाती मनाओल जाएत ओतहि मिथिलाक एकटा गाम नवादा ममे एक दिन पहिले दीयाबाती मनेबाक परंपरा रहल छैक. सभ बरख जकां एहियो बेर विश्वविद्यालय पंचागक निर्धारित तिथि सं एक दिन पहिले माने 18 अक्टूबर के दीयाबाती मनाओल जाएत. बताबी जे इ गाम दरभंगा जिलाक बेनीपुर अनुमंडल मे अबैत अछि. एहि गामक इ परंपराक कोनो पौराणिक ग्रंथ सं नहि लेल गेल अछि. गामक लोक सभ कहै छथि जे 150-200 बरख सं फाजिल सं इ परंपरा चलैत आबि रहल अछि.

गामक वृद्ध लोकनि बताबैत छथि, पौराणिक दृष्टिकोणे दीयाबाती चाइर दिनी पावनि अछि जे यम दीयाबाती स' ल' भातृद्वितीया पावनि धरि मनाओल जाइत अछि. एहिक अंर्तगत पूर्व मे दरभंगा राज मे यम दीयाबातीक दिन घी क' दीया जरा क' उक फेरबाक परंपरा रहल छैक. इहो गाम सकूनी वंशक जमींदारक गाम छल आ राज दरभंगा मे एक दिन पहिले दीयाबाती मनयबाक कारणे इहो सभ हुनक अनुकरण करैत रहला. ग्रामीण कहलनि जे एहि वंशक किछु लोक बहेड़ीक पघारी गाम मे रहै छथि आ ओतही आइयो इ परंपरा जीवित अछि जखन की लक्ष्मीपूजा एक दिन बाद कएल जाइत अछि. ओतहि  गामक आन वंश मूलक लोक मिथिला मे निर्धारित तिथिक अनुसारे दीयाबाती मनबै छथि.

Tuesday, August 29, 2017

मैथिली शार्ट फिल्म 'दी सस्पेक्ट' यूट्यूब पर रिलीज़ भेल

निओ बिहार, राज्यक भाषा मे गीत/वीडियो बनेबा लेल जानल जाएत अछि. 2016क अंते सं एकटा मैथिली शार्ट फिल्म पर काज चलि रहल छल आ फिल्म 'दी सस्पेक्ट'  5  मई के यूट्यूब पर रिलीज़ भेल छल, जेकरा देखबा लेल 25 रुपया क' खर्चा करय पड़य छल मुदा काल्हि सांझ सात बजे इ फ़िल्म फेर सं यूट्यूब पर रिलीज़ भेल जेकरा फ्री में देखल जा सकत.

फ़िल्म मे दुर्गेश कुमार मुख्य रोल में छथि. फ़िल्मक पात्र, अब्दुल रहीम अंसारी जेकरा पर आतंकवादी हमला सं जुड़ल हेबाक अंदेशा छै, की अपना आपके निर्दोष साबित क' सकत? जनबा लेल फ़िल्म देखू.



निर्देशक नितिन चंद्रा कहैत छथि, 'हम अप्पन भाषा भोजपुरी आ मैथिलीमे फिल्म बनायब पसिन करैत छी, किएक त' तथाकथित पढ़ल-लिखल लोक अप्पन भाषा बिसरी गेलथि, लोक अपना घरमे अप्पन भाषामे गप्प नहि करैत छथि. आन भाषा जेना मराठी, बंगाली, पंजाबी या दक्षिण भारतीय अप्पन भाषा नहि छोड़लनि तैं एहि सिनेमा सभक पहचान भेटलै. नितिन द्वारा निर्देशित फिल्म 'मिथिला मखान' कें मैथिलीक पहिल नेशनल अवार्ड भेटल छल.

Sunday, August 27, 2017

बाढ़िक 10 टा फ़ोटो जे कहै पर मजबूर क' देत 'सलाम जिनगी'

इ सभटा फोटो एहि बेरुक आएल बाढ़ि सं लेल गेल अछि आ इ सभटा फोटो अजय कुमार लेने छथि. देखू. 



1.

घर पहुंचबा लेल नाव एकमात्र सहारा
2.

अप्पन जान बचत, तखन न' मवेशी क' जान बचाएब, बेचि दै छियै अखन
3.

सलाम जिनगी
4.

किछु नहि बचलै
5.

एनहिते सभटा डूबल छैक
6.

पइनक बीचो जीबाक लेल पइन त' पिय पड़तै
7.

बाढ़ि सं बेघर आ रौद सं परेशान 
8.

केनाहु चार बचा लेल जाए
9.

मां के कछेर धरि पहुंचा दी
10.

एक भाई, दोसरा के सम्हारैत







500 करोड़ टका नहि स्थायी निदान चाही प्रधानसेवक जी




फेर बाढ़ि एलै, 440 लोक क' मरबाक सरकारी आंकड़ा सोंझा आयल, अखन धरि. मुख्यमंत्री नितीश कुमार हवाई दौरा केलनि आ कहलनि जे एहन बाढ़ि हम नहि देखने रहि. स्थिति आओर ख़राब भेलै त' हवाई दौराक पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सेहो एलथि. भयावह बाढ़ि बुझेलनि प्रधानमंत्री कें, झट सं बैसार केलनि आ 500 करोड़ क' झुनझुना पकड़ा देलखिन. बहुत रास धन्यवाद प्रधानसेवक जी. सरकारी आंकड़ा क' जौं गप्प करी त' करीब एक करोड़ छियालिस लाख लोक सीधा तौर पर बाढ़ि सं प्रभावित भेल. अखनो लाखों लोक प्रभावित छथि. काल्हि सांझ बा(दाय) सं गप्प भेल, कहै छलखिन, 'आई धरि एतेक दिन त' पानि कहियो नहि रुकलै, धान बहि गेलै सभटा.'

बात 500 करोड़क, कहिया पाइ एतै वा राहत, कोनो माय-बाप नहि. जौं एब्बो करतै त' कतेक लोक तक पहुंचतै जानि नहि. मानि लिए जे पूरा पाइ पहुंच गेलै (ओना हमर इ मानब गलत अछि, तैयौ) त' सभ कें 342 रूपया 46 पाइ भेटतै. अलग गप्प छै जे गाम मे रहनिहार जे 32 टका कमाई छैक से गरीब नहि. हंसी आबि रहल अछि त' हैंस लिए. 2008 क' कोसी बाढ़ि पीड़ित आइयो तंबू आ छतरी लगा जीबि रहल छथि किएक त' हुनक घर कोसी लील गेली. 2017 क' बाद आओर किछु तंबू लागि जेतै आओर की? मुदा जौं 70 बरख क' बादो बाढ़िक कोनो इलाज़ नहि छैक त' कतौ न कतौ खोट त' छै प्रधानसेवक जी. स्थाई निदान ताकय पड़त नहि त' इ बाढ़ि आ राहतक खेल चलैत रहत, सरकार जीतैत रहत आ जनता हारैत रहत. एतय गप्प सिर्फ मिथिला क्षेत्र, डूबल त' असम आ पूर्वांचल सेहो छैक.

क्षेत्रक जनता बड्ड बिसराह छैक. जनता के मोन रखबाक चाही जे जखन बिहार डूबि रहल छलै तखन लालू आ शरद यादव देस बचेबा मे लागल छलथि, सुशील मोदी सृजन करबा मे, नितीश कुमार सरकार बचेबा मे, नरेंद्र मोदी मन क' बात कहबा मे आ राहुल गांधी चौरचन क' शुभकामना देबा मे आ जनता डंफा बजेबा मे व्यस्त छल. इ गप्प के मोन रखबाक चाही. इहो गप्प के मोन रखबाक चाही  कैक टा सांसद आ विधायक जी खोज-खबरि लेल एलथि. कखनो काल के त' एहन सन लगैत अछि जे बिहार मे नेता सभ सं पहिले जनता बदलबाक प्रयोजन छैक. 

Monday, July 31, 2017

बिहार संपर्क क्रांति एक्सप्रेस बनल देशक सभसं व्यस्त ट्रेन

दरभंगा : भारत मे लगातार ट्रेन में भीड़ बढ़ि रहल छैक आ मिथिला दिस सं पैघ शहरक लेल जाए बला ट्रेन मे त 'भयंकर वृद्धि भेल अछि. 10 साल पहिले दरभंगा-दिल्ली संपर्क क्रांति एक्सप्रेस व्यस्ततम ट्रेनक सूची मे 9म नंबर पर छल, मुदा अझुका रेलवे के रिपोर्ट क' बाद पहिल नंबर पर पहुंचि गेलै.
दरभंगा-दिल्ली संपर्क क्रांति एक्सप्रेस मे एक बरख मे जते लोक यात्रा करै छथि, ओकर एक तिहाई वेटिंग लिस्ट चलैत अछि. रेल मंत्रालय क' आंकड़ा बतबैत अछि जे 2016-17 क' बीच 12565 दरभंगा-दिल्ली संपर्क क्रांति एक्सप्रेस सं  6,22,867 लोक यात्रा केलनि आ 2,05,192 लोग प्रतीक्षा सूची मे रहलथि.
एहि तरहे, 12566 दिल्ली-दरभंगा संपर्क क्रांति एक्सप्रेस सं 6,31,470 लोक पिछला साल मे यात्रा केलनि। एकर वेटिंग लिस्ट 1,97,480 रहल. बरौनी-दिल्ली क' बीच वैशाली एक्सप्रेस सं 5,56,316 लोक यात्रा केलनि आ  एहि मे प्रतीक्षा सूची 1,93,401 रहल. व्यस्ततम ट्रेनक टॉप-10 क' लिस्ट मे बिहार या वाया बिहार सं 6 टा ट्रेन छैक. 
(रिपोर्ट प्रभात खबर सं लेल गेल अछि.)

Sunday, July 2, 2017

संरक्षण, नेपाली सिनेमा मे मैथिली युग क' शुरुआत अछि


तीसरी कसम. यैह ओ हिंदी फिल्म छल जाहि मे पहिल बेर मैथिली संवाद सुनल गेल. अहां सेहो सुनी.


एकरा बाद एक-आध टा आओर फिल्म मे मैथिली संवाद सुनल गेल मुदा साफ़ शब्द मे बुझियौ त' नहि सुनल गेल. गैंग्स ऑफ वासेपुर क' गीत मे जरूर मैथिली लोकसंगीतक धाह छलै आ गंगाजल 2 मे सेहो मुदा पैघ स्तर पर मैथिली, हिंदी सिनेमा मे कहियो जगह नहि बना सकलै जखन की हिंदी सिनेमा देखनाहर एकटा नीक आबादी मैथिली भाषी छैक. नेपाली फिल्म फिटकिरी मे सेहो मैथिली डायलॉग छल मुदा ओकरा बाद नेपाली फिल्म इंडस्ट्री मे मैथिली के जे जगह भेटबाक चाही छल से नहि भेटलै. फिटकिरी फ़िल्म मे मैथिली संवाद सुनी.

11 अगस्त के रिलीज़ भ' रहल नेपाली फ़िल्म संरक्षण मे पहिले फगुआ गीत मे मैथिली आ नेपाली मिक्स क' गीत पड़सल गेैलै, गीत सुनी, पसिन पड़त.



एहि गीत मे मैथिली आ नेपाली संगे पैघ स्तर पर प्रयोग कयल गेलै आ सफल सेहो रहलै जखन काठमांडू मे हिंदी फगुआ गीत सभ के ठाम नेपाली फिल्म संरक्षण फ़िल्मक इ गीत ल' लेलकै. 

एकरा बाद संरक्षण फ़िल्मक एकटा आओर गीत रिलीज़ भेलै पूरा मैथिली मे, किशोरी लाल, सुनी.


किशोरी लाल संभवतः पहिल एहन संपूर्ण मैथिली गीत छैक जे कोनो भी आन भाषाई फिल्म मे जगह बनेलक. इ गीत रोशन जनकपुरी लिखने छथि, गेने छथि रितिका परमेश्वर, प्रवेश मल्लिक आ प्रेम प्रकाश कर्ण. 
संरक्षण फ़िल्मक डायरेक्टर पुर्नेंदु झा छथि. संरक्षण फ़िल्मक दुनु गीत 4K मे बनाओल गेल छैक. संरक्षण फ़िल्मक बाद उमीद करी जे आगां आबय वला समय मे नेपाली फिल्म इंडस्ट्री मे मैथिली मे काज होइत रहत.


Thursday, June 22, 2017

अमलेंदु आ चन्दन कें साहित्य अकादमी पुरस्कार भेटल

साहित्य अकादमी क' अध्यक्ष विश्वनाथ प्रसाद त्रिपाठी क' अध्यक्षता मे आई दुपहरिया गुवाहाटी मे बाल साहित्य पुरस्कार आ साहित्य अकादमी युवा पुरस्कार के घोषणा कयल गेल. मैथिली मे बाल साहित्य पुरस्कार, अमलेंदु शेखर पाठक कें उपन्यास लालगाछी लेल भेटल आ साहित्य अकादमी युवा पुरस्कार, चंदन कुमार झा कें काव्य संग्रह धरती सं अकास लेल भेटल. पुरस्कार मे ताम्रफलक आ पचास हज़ार टका दुदू गोटे कें साहित्य अकादमी एकटा पुरस्कार समारोह मे 14 नवंबर के देल जाएत.

बाल साहित्य पुरस्कार लेल जूरी मे इन्द्रकांत झा, प्रभास कुमार झा आ शशिनाथ झा छलथि आ साहित्य अकादमी युवा पुरस्कार लेल जूरी मे वैद्यनाथ चौधरी, मन्त्रेश्वर झा आ योगेन्द्र पाठक छलथि. मिथिला प्राइम दिस सं अमलेंदु आ चन्दन के ढेर रास बधाई.

  

Saturday, May 20, 2017

नव बनि रहल शक्ति आ शिव पर्यटन सर्किट मे मिथिलाक बहुतो पावन धाम कें जगह

प्रदेश मे तीन टा धार्मिक पर्यटन सर्किट विकसित कयल जाएत. शक्ति, शिव आ सिख सर्किट. पर्यटन विभाग एकरा विकसित करबाक लेल विस्तृत रिपोर्ट बना केंद्र सरकार के पठेलक. केंद्रीय पर्यटन विभाग सं एकरा लेल फंड सेहो मानल जाएत. 

बिहार पर्यटन दृष्टिये बड्ड महत्वपूर्ण क्षेत्र छैक मुदा राज सरकार पर बेर-बेर इ आरोप लगैत रहैत छैक जे पर्यटन के बढ़ावा देबा लेल प्रदेश सरकार गंभीर नहि. राज्य मे अखन हिन्दू सर्किट, जैन सर्किट, गांधी सर्किट, रामायण सर्किट, बुद्ध सर्किट आ सूफी सर्किट छैक जेकर स्थिति सेहो नीक नहि कहल जा सकैछ. आब शक्ति, शिव आ सिख सर्किट क' विकास लेल योजना बनाओल गेल अछि. 
शक्ति सर्किट : शक्ति सर्किट मे पटना क' कालीमंदिर, बड़की-छोटकी पटन देवी आ शीतला माता मंदिर, सारण क' आमी, गोपालगंज क' थावे, कैमूर क' मुंदेश्वरी, सहरसा क' उग्रतारा स्थान, मधुबनी क' उच्चैठ आ रोहतास मे मां तारा चंडी स्थान के विकसित कयल जाएत.

शिव सर्किट : मुजफ्फरपुर मे बाबा गरीब नाथ, मोतिहारी मे सोमेश्वर नाथ महादेव, सीतामढ़ी मे बाबा नागेश्वर नाथ, शिवहर मे देकुली भुवनेश्वर नाथ धाम, भागलपुर मे सुल्तानगंज क' बाबा अजगेबीनाथ, मधेपुरा क' सिंहेश्वर स्थान, दरभंगा मे कुशेश्वर स्थान आ कटिहार मे गोरखनाथ मंदिर के शिव सर्किट के रूपे विकसित कयल जाएत. 



सिख सर्किट : पंजाब क' बाद सिख धर्मावलंबी क' सभसं पैघ तीर्थस्थल बिहार अछि. राज्य क कतेको गाम मे एहन गुरुद्वारे अछि जतय हस्तलिखित गुरु ग्रंथ साहिब छैक. पटना साहिब गुरुगोविंद सिंह क' जन्मस्थली अछि. ओतहि, तेगबहादुर सेहो बहुतो ठाम बिहार मे घूमलनि. एहन-एहन ऐतिहासिक स्थल कें चुनि कें सिख सर्किट मे जोड़ल जाएत.

सांसदक हाल संसद मे

16म लोकसभा मे बिहार सं 40 टा सांसद छथि. जनता हिनका सभ कें समस्याक सामाधान आ आवाज उठेबा लेल संसद पठौलनि. मुदा की अहां के बूझल अछि जे अहांक सांसद क' हाल संसद मे की अछि? मिथिला प्राइम बता रहल अछि 12 टा सांसदक हाल.


डाटा पीएसएस क' वेबसाइट सं लेल गेल अछि.